निम का पेड एक औषधि

  नीम का पेड एक औषधि. 

                       हेलो दोस्तों में आपका दोस्त प्रमोद । आजमें आपको एक ऐसे पेड़ के बारेमे बताने जारहा हु
जो कड़वा तो है लेकिन बोहोत ही लाभदायक ओर गुणकारी है .


  1.  नीम का पेड जिहा दोस्तो नीम का पेड जीस के बारेमे आप मे से कई लोगों ने सुना होगा लेकिन आज
में आप को नीम के पेड की जानकारी कुछ विस्तार से बताऊगा . 
                दोस्तों हमारा देश भारत दुनिया में एक ऐसा ओर लोता देश है, जहांपर आजभी पेड़ पौधों आजभी 
पुजनीय तरिकोसे देखा जाता है , ओर ना सिर्फ पूजा जाता है , उन्होंने औषध के रूप में अपनाया जाता है ,
ओर इस से न सिर्फ भारत बल्कि दूसरे देशों को भी हमारी ओषधि या लाभदाई साबित हो रही है. 
                  ओर उसीसे प्रेरित होकर आज सारि दुनिया नेये माना है कि आयुर्वेद ही बेस्ट ओर एक कारगर इलाज है. बोहोत सारे रोगों के मामलों में. लेकिन दोस्तों आज का जो हमारा टोपिक जो है
वह भी एक आयुर्वेदिक पेड़ के बारेमे ही है. जिसका ना आपमेसे बोहोत से लोग जानते 
होंगे;:नीम का पेड::जिहा दोस्तो आज हम बेहद गुणकारी ओर आयुर्वेदिक नीम के पेड़ की बात जानेगे,
                दोस्तों आपमेसे कई लोग ये जानते होंगे कि नीम का पेड कड़वा होताहै, लेकिन दोस्तों यह नीम का पेड़ बोहोत ही गुणकारी ओर लाभदायक होताहै. 
          ओर दोस्तों नीम के पेड़ के बारेमे आप न सिर्फ मेरी राय आप किसीभी बूढ़े इंसान से पूछ लीजिये वह 
भी आप को नीम के पेड़ की यही बात बताएंगे जो आज
आपको में बताऊंगा. 
             में आज आपको स्टेप बे स्टेप बताउंगा की आप को नीम के पेड़ का ओर उसके अंगों का कैसे ओषधि के रूप में करना है .
नीम का पेड एक औषधि. 
Https://www.goodthings2.com


                 1,  के अगर आपके दांतों में ओर आपके मसूड़ो में तकलीफ होती है और अगर आपके मुंह मे से 
बदबू आती है ओर अगर आपको दांत हिल ने की भी प्रोब्लम है तो आपको नीम के पेड़ की पतली वाली डाली
को तोड़कर उससे दातुन सुबह और शाम कमसे कम दो बार करना है जिस से आपके मुहमे नीम की कड़वाहट आएगी जिसकी  वजह से आपके मुंह मे से कीटाणु मार जाएंगे और आपकी दांत हिलने ओर मसूड़ो की तकलीफ ओर उसके साथ ही मुहमेसे बदबु भी आना बंदहो जाएगी. 
             दोस्तों नीम के पेड़ की कड़वाहट जो है वह हमारे मुह के कीटाणु ओको खत्म करने में बोहोत कारगर है और पुराने जमाने में लोग इसी नीम के पेड़ कही दातुन करते थे तो आपभी अगर आपको ऐसी कोई 
तकलीफ है तो इसे आजमाए. 
नीम का पेड एक औषधि. 
          2, रा अगर आपको तेज बुखार हो और आपने तीन चार दिनसे बुखार हो और दवाई लेनेके बाद भी ठीक नही होरहा जिसको हम लोग वाइरस वाला बुखार कहते है तो अगर ऐसी कोई भी प्रोब्लम हो तो ।
              इसके लिए आपके नीम के पेड की पत्तियां लेकर एक पतीले में जिसमें एक बाल्टी पानी आसके 
उसके अंदर नीम के पेड़ की पत्तियां डालकर अच्छी तरह से उबालकर उससे स्नान करना चाहिये इस से आपके शरीर मे जोभी वाइरस का भुखार होगा वह ठीक हो जाता है. 
           क्युके नीम के पेड़ की पत्तियां भी कड़वी होती है और इसके वजह से वाइरस के कीटाणु मरजाते है जिसकी वजहसे आपका बुखार ठीक हो जाता है.
नीम का पेड एक औषधि. 
                  3, ओर आजकल  सभीलोगो को एक बीमारी अपने आगोश में लेजारहि है चाहे छोटा है या बड़ा सभी लोग इस से प्रभावित है. 
           उसका नाम है डायाबिटीज जिहा दोस्तों मधुमेह यह बीमारी आजकल हर दूसरे तीसरे इंसान में देखीजाती
है तो इन लोगो को मतलब की डायबिटीज वालोंको भी नीम के पेड के जो फूल आते है और अगर फूल न मिले 
तो नीम के पेड के सबसे छोटी पत्तियां होती है उनका रस बनाकर दिन में एक बार पीना चाहिए जो आपकी मधुमेह की बीमारी को जड से खत्म कर देगा लेकिन आपको सिर्फ और सिर्फ नीम के पेड के फूल और सिर्फ डाली की सबसे छोटी और नई पत्ती या ही लेनी ही , 
             जिसको हमलोग कुम्पले बोलते है वही उपयोगमें लेनी है. दोस्तों इसके अलावा डायबिटीज के रोगी को
सुबह शाम नीम के पेड का दातुन भी करना चाहिए इस से भी उनको फायदा ही होताहै. 
                 ओर दोस्तों यह नीम का रस पीने से नासिर्फडायबिटीज बल्कि बोहोत सारे रोगों को आपके शरीर से 
दूर हो जाएंगे. 
नीम का पेड एक औषधि. 
       4, था दोस्तों नीम के पेड की छाल है वो तो बेहद फायदेमंद है । 
              अगर कोई छोटा मोटा घाव हो या कोई शरीर पर फुन्सी होगई हो तो नीम के पेड़ की छाल जो है 
उसको पीसकर उसका पेस्ट बनाकर उस घाव या फुन्सी 
पर उसका लेप लगाने से बोहोत ही जल्दी ठीक हो जाता
है,  
            जिहा दोस्तों क्योंकि घाव ओर फुन्सी में कीडे या बुरे बैक्टीरिया होते है जो हमारे शरीर की चमड़ी में
अंदर तक पोहोच जाते है और बोहोत बिगाड करते है . ओर यहापर नीम के पेड़ की  छाल की कड़वाहट उन कीटाणु ओर बैक्टीरिया को खत्म करदेते है जिससे हमें आराम मिलता है. 
नीम का पेड एक औषधि. 
                 5, वा जो फायदा है नीम के पेड का वो है उसके बीजो का है जिहा नीम के पेड़ के बीजो का तेल 
भी दोस्तों उतनाही लाभदायक है . 
               ओर तेल जोहे वह अगर आपको हाथ पैर मेंओर जोडोमे दर्द रहता है तो नीम के पेड के बीजो का 
तेल है उससे मालिश करनी चाहिए तो उससे हाथ ओर पैरो के जोडोमे जो दर्द होताहै वह ठीक होजाएगा ओर 
इस तेल का उपयोग आप अपने सर में डेंड्रफ ओर जुओ को मारने के लिए भी कर सकते है ।
           बस रोज शाम को सोते समय नीम के बीजो का 
तेल सरमे मालिश करके सोजाना है और सुबह ठंडे पानीसे धोदे कुछ दिन यह तेल का इस्तेमाल करने से 
आपकी समस्या दूर हो जाएगी. 
                 अब दोस्तो यह तो मेने आपको नीम के पेड़से होने वाले फायदों के बारे में बताया लेकिन फायदा 
तो दोस्तों तब होगा ना जब हम लोग पेड़ो को इस धरती पर रह ने देंगे दोस्तो,

             आज शहरों में आपको कही पर शायद ही कोई नीम का पेड़ मिलेगा दोस्तो ओर फिर दिन प्रतिदिन पेड़ो
की कटाई बोहोत हादसे ज्यादा होती है तो आइए इस 
एक संकल्प करिये के हैम हमारे घर और शहर में कमसे कम एक नीम का पेड़ या फिर कोईभी लेकिन पेड़ तो जरूर लगाएंगे. 
                      दोस्तों यह नासिर्फ हमारे लिये बल्कि आने वाली पीढ़ी के लिए भी अच्छा होगा. 
   मेरी दीगई जानकारी आपको अच्छी लगे तोअपने दोस्तों और जानने वाले लोगों को भी शेर करे . 
                                                             
                               फिरमिलेंगे दोस्तों एक नई ओर जान ने लायक तथ्य के साथ. 

                      
                



            

Post a Comment

1 Comments

Princess said…
Very well written keep it up