पढाई कैसे करनी चाहिए ?

                       हेलो दोस्तों में प्रमोद आपका दोस्त
पढाई कैसे करनी चाहिए. 
            दोस्तो आज का विसय हमारे उन दोस्तो के लिये है जो पढ़ ने तो जाते है  लेकिन उन्हें पढ़ाई कुछ पल्ले नही पड़ती या फिर उन्हें पढ़ने में कोई रस नही आता तो दोस्तो ये टॉपिक सिर्फ और सिर्फ आपके ही लिये है ।
                 जैसे कि मेने कहा के कई सारे स्टूडेंट्स है जिनको पढ़ ने या लिखने में कोई मजा नही आता और पढ़ ने के बाद भी उनको कुछ याद नही रहता और जब भी स्कूल में जब टीचर कुछ पढा ते हैं या सिखाते है तो सब ऊपर से जाता है कुछ भी समझ नही आता है.
        तो दोस्तों आपको इसमे कोई गभराने की बात नहीये आपको ही नही बोहोत सारे लोगो के साथ होचु का है
ओर में आपको बताऊंगा के आप क्या करे के आप का मन पढ़ाई में भी लगे और आपको सब समझ मे भी आए आप को सिर्फ नीचे दिए गई बातों का ध्यान से पालन करना है .
पढाई कैसे करनी चाहिए. 
     

Https://www.goodthings2.com



                1/   तो दोस्तो आप अपने आपको इस तरह एक सकारात्मक सोच बनाए जैसेकि आप एक अच्छे स्टूडेंट्स है ओर आप एक आदर्श स्टूडेंट्स है दोस्तो जैसेही आप अपने आपको सकारात्मक सोच में परिवर्तन करोगे आप महसूस करो गे के आप सचमे ही एक अछे ओर होशियार स्टूडेंट्स हो
लेकीन दोस्तों ये काम एक दो दिन का नही ही इसके लिये आप को अपने दिमाग से थोडा संघर्ष करना होगा क्योंकि हमें रोज नही पढ़ ने कि जो आदत होगई है वो एक दो दिन में नही जाए गई .
                     लेकिन दोस्तो जाए गई जरुर इसके लिए आपको अपने दिमाग को ट्रेन करना होगा जैसे मेने पहले ही कहा के अपनी सोच बदलो ओर अपने आपको एक पढ़ा कु स्टूडेंट समजो फिर धीर धीरे आपमे पढ़ाई के प्रति रस आने लगे गा.
             तो अब जब आपने अपने आप को पढाई के प्रति तैयार करलिया लेकिन ये तो आपने पढ़ाई में जागॄत किया लेकिन पढ़ाई तो अभी भी पल्ले नही पड़ती उसका क्या तो उसका हल भी है।
   पढाई कैसे करनी चाहिए. 

              2/   दोस्तो आपको क्लासरूम में टीचर जब भी कोई विसय या टोपिक पढ़ा रहे हो तब आप उस टोपिक को ध्यान से समजे ओर सुनिए क्यों कि ध्यान से सुन के ओर समज मेही आप उस टोपीक या विसय पर सिख सकोगे ओर फिर आप उस विसय या टॉपिक को अपने स्कूल के बाद घर पर उसका रिपीटेशन करे जिस से आपको वो रभी याद ओर समज आ जाए दोस्तो मेरी भी यही प्रॉब्लम थी के मेभी स्कूल का स्कुल मेही भूल जाता था लेकिन फिर ये बाते गोर की तो सब ठीक से होने लगा.
                दोस्तों आप हमेशा घरपर अगर सिखाए गए विसय ओर टोपिक को रिपिटेशन ओर द्र्ढ निश्चय से आप अगर पढ़ लोगे तो कुछ भी मुश्किल नही है .
          अब आते हैं उस पॉइंट पर जहाँ बोहोत सारे लोगो की प्रॉब्लम है कि वो क्लास में अपने टीचर या शिक्षक से जोपढते है उस के बारे में सवाल पूछ ने से गभराते है और यही उनकी बोहोत बड़ी भूल हो जाती है दोस्तो अगर आप सवाल्हि नही करोगे तो टीचर को तो यही लगेगा कि आप सब समझ गए हो जबकि आपको कुछ भी समझ नहो आया होता है .
पढाई कैसे करनी चाहिए. 

           3,  तो यहां हम ये समजे गे की हमे तिसरी बात में ये ध्यान रखना होगा कि हम जोभी टीचर हमें स्कूल में पढ़ा ते है
तब अगर हम कुछ समझ न आए तो हम टिचर से ओर नासिर्फ टिचर हम किसी होशियार स्टूडेंट सभी सलाह मशवरा करेंगे दोस्तो पूछनेसे आप छोटे नही हो जाओगे बल्कि आप कुछ सिख जाओगे ओर सिख गए तो आगे बढ़ जाओ गए .
         देखिए दोस्तों एसा नही है कि कोई आप को जादू करके या फिर आपको जड़ीबूटी खिलाकर पढ़ाई में होशियार बनादे नही ऐसा कोई मंत्र है दोस्तों आप पढ़ाई हो या कोई भी चीज जब आपही कुछ नही करोगे तब तक कुछ नही होगा
इसलिए बस आप को ही समझ कर सीखना है और आपको ही पढ ना है.
              मेने आपको जोभी समज दी या इस लेख के दौरान समजाया ये सिर्फ मेरी सोच है और में जोसमज ता हु वो आपके समक्ष रखा है .
               अगर आपको मेरी दीगई जानकारी अच्छी लगे तो लाइक ओर कॉमेंट जरूर करना .
                              फिरमिलेंगे दोस्तों. 

Post a Comment

8 Comments